हाइकु #3

Image by Kranich17</a> from Pixabay


हिंदी हाइकु के विषय में काफी जगह देखा और जो परिभाषा समक्ष आई उससे ज्ञात हुआ कि हिंदी हाइकु 17 अक्षरों और तीन पंक्तियों में लिखी जाने वाली कविता है।  इसकी पहली पंक्ति में 5 अक्षर, दूसरी पंक्ति में 7 अक्षर और तीसरी पंक्ति में 5 अक्षर होते हैं। इसी परिभाषा को ध्यान में रखकर यह तीन हाइकु लिखने की कोशिश की है। तीनों अलग-अलग विषय पर हैं।  उम्मीद है आपको पसंद आएगी। 


अगर कहीं कोई सुधार की आवश्यकता आपको दिखती है तो कमेंट्स में उसका उल्लेख जरूर कीजिएगा। 


हिंदी हाइकु परिभाषा: हिंदी हाइकु विकिपीडिया , हिंदी हाइकु पोषमपा


1

हुई बरसात,

भीगा मैं औ' भीगी वो

जला संसार 

2

डोर नेह की

होती बड़ी नाजुक

रखो सँजोके

3

मास्क नहीं है

न है दो गज दूरी

क्या मजबूरी?


यह भी पढ़ें



2 टिप्पणियाँ

आपकी टिपण्णियाँ मुझे और अच्छा लिखने के लिए प्रेरित करेंगी इसलिए हो सके तो पोस्ट के ऊपर अपने विचारों से मुझे जरूर अवगत करवाईयेगा।

एक टिप्पणी भेजें

आपकी टिपण्णियाँ मुझे और अच्छा लिखने के लिए प्रेरित करेंगी इसलिए हो सके तो पोस्ट के ऊपर अपने विचारों से मुझे जरूर अवगत करवाईयेगा।

और नया पुराने